FARISHTON KE GEETO SE LYRICS

फरिश्तों के गीतों से

फरिश्तों के गीतों से गूँज गया आसमान,
अँधेरी रात में रौशन हुआ आसमान
चरवाहों ने देखा ऐसा जलाल
रौशन हुआ था खूब आसमान
फरिश्तों के गीतों से गूँज गया आसमान
अँधेरी रात में रौशन हुआ आसमान
चरवाहों ने देखा ऐसा जलाल
रौशन हुआ था खूब आसमान

1) पैदा हुआ है आज मसीहा,
    जो दिलाये हमको नजात
जिसकी राह देखते सब
आया है वो आज की रात
फरिश्तों के गीतों से गूँज गया आसमान
अँधेरी रात में रौशन हुआ आसमान
चरवाहों ने देखा ऐसा जलाल
रौशन हुआ था खूब आसमान

2) मुंजी हमारा ज़मीं पे आया
    सुलह सलामती ख़ुशी है लाया
दिल को अपने उसको देदो
राजाओं का राजा है आया
फरिश्तों के गीतों से गूँज गया आसमान
अँधेरी रात में रौशन हुआ आसमान
चरवाहों ने देखा ऐसा जलाल
रौशन हुआ था खूब आसमान

Written, Music & Composed by
Rajinald Vijay Milton (Regi Milton)
1st December 2016

 

 

  प्रभु इस गीत के द्वारा आप सब को आशीष दे