Main Dakhlata Hun

 

 

 

मैं दाखलता हूँ और तुम डालियां हो 
जो मुझ मैं बना रहता है और मैं उस मैं 
वह बहुत फल लता है, लता है 
क्योकि मुझ से अलग होकर, मुझ से अलग 
तुम कुछ भी न कर सकते |

Main Dakhlata Hun Aur Tum Daaliyan Ho 

Jo Mujh Mai Bana Rehta Hai Aur Mai Uss Main

Veh Bahut Phal Lata Hai, Lata Hai 

Kyoki Mujh Se Alag Hokar, Mujh Se Alag

Tum Kuch Bhi Na Kar Sakte 

  प्रभु इस गीत के द्वारा आप सब को आशीष दे