Parmeshwar Ki Stuti Karo

 

 

 

धन्य हैं परमेश्वर, तुम उसी का धन्यवाद गाओ

स्वर्ग के सब दूतों के राग में राग अपना मिलाओ

सब उस के गीत 

छोड़ो वीजा, गाओ गीत 

प्रभु के भजन सुनाओ |

 

धन्य हैं परमेश्वर, वह करता सब भला और अच्छा 

अपने पंख नीचे वह करता हैं तुम्हारी रक्षा |

प्रभु दयाल

रहता हैं नित्य प्रतिपल 

जानता तुम्हारी सब इच्छा |

 

धन्य हैं परमेश्वर, अदभुत उसने तुम्हे बनाया |

तुम्हे सुख-चैन दे के कृपा के मार्ग पर चलाया |

किया उपकार- 

प्रभु ने तुम्हे बार-बार 

अपनी ही आड़ में छुपाया |

 

धन्य हैं परमेश्वर, तुम्हारे घर का वह वरदाई |

स्वर्ग से नित वर्षा-सी कृपा कर कृपा बरसाई |

कभी न भूल :

प्रभु सत्य और बलवंत 

कितनी प्रीत तुम पर दिखाई 

 

धन्य हैं परमेश्वर ! सब मिलकर गुड प्रभु का गाओ |

सब जिन को श्वास हैं संग हमारे भजन सुनाओ 

वह हैं जग-मूल,

हैं मन तू उसे न भूल |

स्तुति करके कहो आमीन |

 

Dhanya Hai Parmeshwar, Tum Usi Ka Dhanyawad Gao

Swarg Ke Sab Dutoon Ke Raag Me Raag Apna Milaao

Sab Us Ke Geet

Chodo Veeja, Gao Geet

Prabhu Ke Bhajan Sunao

 

 

Dhanya Hai Parmeshwar, Veh Karta Sab Bhala Aur Achcha

Apne Pankh Neeche Veh Karta Hai Tumhari Raksha

Prabhu Dayaal

Rehta Hai Nitya Pratipal

Jaanta Tumhari Sab Ichcha

 

 

Dhanya Hai Parmeshwar, Adbhut Usne Tumhe Banaya

Tumhe Sukh-Chain De Ke Kripa Ke Maarg Par Chalaya

Kiya Upkaar

Prabhu Ne Tumhe Baar Baar

Apni Hi Aad Mein Chupaya

 

 

Dhanya Hai Parmeshwar, Tumhare Ghar Ka Veh Varvaai

Swarg Se Nit Varsha-Si Kripa Kar Kripa Barsaai

Kabhi Na Bhool

Prabhu Satya Aur Balvant

Kitni Preet Tum Par Dikhaai

Kitni Preet Tum Par Dikhaai

 

 

Dhanya Hai Parmeshwar ! Sab Milkar Gud Prabhu Ka Gao

Sab Jeen Ko Aas Hai Sang Hamare Bhajan Sunaao

Veh hai Jag-Mool

Hai Man Tu Use Na Bhool

Stuti Karke Kaho Ameen

  प्रभु इस गीत के द्वारा आप सब को आशीष दे